Sada E Waqt

چیف ایڈیٹر۔۔۔۔ڈاکٹر شرف الدین اعظمی۔۔ ایڈیٹر۔۔۔۔۔۔ مولانا سراج ہاشمی۔

Breaking

متفرق

Thursday, June 3, 2021

हत्या की घटना के कुछ ही घंटे बाद पुलिस ने की ध्वस्तीकरण की कार्रवाई।

  आजमगढ़/उत्तर प्रदेश /सदा ए वक्त /3 जून 2021. /सूत्र 
==============================
गैंगस्टर नैयर फेटी के कब्जे से मुक्त कराई गई ग्राम सभा की भूमि
आजमगढ़। बरदह थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर फेटी गांव में बुधवार की सुबह हुई जौनपुर निवासी युवक की हत्या के कुछ ही घंटे बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए हत्यारोपियों द्वारा कब्जा की गई ग्रामसमाज की भूमि पर बने निर्माण को ध्वस्त करा दिया।
गौरतलब है कि बरदह थाना क्षेत्र के मोहम्मदपुर फेटी ग्राम निवासी शाह जमां उर्फ नैय्यर फेटी एवं इसी गांव के अकमल के बीच लंबे समय से रंजिश चली आ रही है। दोनों के बीच वर्चस्व की जंग जारी है। इसी दौरान बीते पंचायत चुनाव के समय दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए और मौके पर जमकर फायरिंग हुई। इस घटना में शाहजमां उर्फ नैय्यर को आरोपित किया गया। जानलेवा हमले के आरोप में गिरफ्तार किए गए शाहजमां उर्फ नैय्यर पर प्रशासन में गैंगस्टर की कार्रवाई की है। गैंगस्टर आरोपी इन दिनों न्यायिक अभिरक्षा में है। बुधवार की सुबह मोहम्मदपुर फेटी ग्राम निवासी अकमल के घर जौनपुर जिले के केराकत थाना क्षेत्र का रहने वाला बंटी सिंह आया हुआ था। बताते हैं कि इसी दौरान आधा दर्जन की संख्या में आए बाइक सवार हमलावरों ने अकमल के घर पर धावा बोल दिया। हमलावरों द्वारा की गई गोलीबारी में बंटी सिंह की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना पाकर पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह स्वात टीम के साथ ही सर्विलांस एवं फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। जांच के दौरान यह बात सामने आई कि फायरिंग की घटना दोनों पक्षों के बीच हुई है। घटना की जांच में जुटी टीम अपने काम में लग गई है। इसी दौरान अकमल ने विपक्षी शाहजमां पर जेल से धमकी देने का आरोप लगाया। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसपी ने वहां मौजूद एसओ विनोद कुमार को तत्काल अकमल के लिए सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया। साथ ही लगाए गए आरोपों के आधार पर तहसील प्रशासन को मौके पर बुलाया गया। मार्टिनगंज तहसीलदार की अगुवाई में ग्रामसभा की भूमि पर किए गए अतिक्रमण की मापी कराई गई। इस दौरान जानकारी मिली की गैंगस्टर शाहजमां उर्फ नैय्यर द्वारा ग्राम सभा की भूमि को अपनी बाउंड्री में मिलाकर उस पर निर्माण कार्य कराया गया है। पुलिस व तहसील प्रशासन की मौजूदगी में जेसीबी की मदद से अतिक्रमण की गई भूमि पर कराए गए निर्माण को ध्वस्त करा दिया गया। प्रशासन द्वारा की गई इस कार्रवाई की चर्चा पूरे दिन क्षेत्र में जोरों पर रही।

Post Top Ad

Your Ad Spot